भारत क़े 10 खूबसूरत स्थान जो आपको हमेशा याद रहेंगे

भारत क़े 10 खूबसूरत स्थान जो आपको हमेशा याद रहेंगे

भारत के Top 10 सबसे खूबसूरत स्थान

  • लेह लद्दाख
  • हिमाचल प्रदेश
  • कश्मीर
  • उत्तराखंड
  • पूर्वोत्तर भारत
  • केरल
  • लक्षद्वीप
  • गोवा
  • अंडमान
  • राजस्थान

10लेह लद्दाख:-

लेह-लद्दाख जम्मू और कश्मीर में सबसे बेहतरीन और आकर्षक जगहों में से एक है, जो हर साल कई पर्यटकों को अपनी और आकर्षित करती है. यह जम्मू और कश्मीर के सुरम्य राज्य के पूर्वी क्षेत्र में समुद्र तल से लगभग 2,300 से 5,000 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है. यह भारत में साहसी और पहाड़ प्रेमियों की सबसे पसंदीदा जगह है. पैंगोंग झील, शांति स्तूप, नुब्रा वैली और खारदुंग-ला माउंटेन दर्रा यहाँ के मुख्य आकर्षण के केंद्र है. यहाँ के शुष्क ऊचे पहाड़ और चित्र-परिपूर्ण बौद्ध मठो की सुंदर तस्वीर आपके सामने प्रस्तुत होगी. लेह लद्दाख में उबड़-खाबड़ जलवायु वाली स्थिति और दुर्गम इलाके इस जगह को ओर आकर्षक बनाते है. यहाँ आप   बर्फ की चोटिया, शानदार जलधाराए, पर्वत दर्रों और कई शानदार ट्रेकिंग ट्रेल्स का जमकर आनंद उठा सकते है.

आधिकारिक भाषा: उर्दू

राज्य: जम्मू और कश्मीर

घूमने के स्थान: लेह पैलेस, शांति स्तूप,चो खंग स्तूप, नामग्याल त्सेमो गोम्पा, चंबा मंदिर, युद्ध संग्रहालय, विजय टॉवर।

9हिमाचल प्रदेश:-

हिमाचल प्रदेश प्राकृतिक सुन्दरता और भव्यता को समेटे हुए उत्तरी भारत का एक छोटा राज्य है। हिमाचल प्रदेश में प्रकृति का भंडार समाया हुआ है. हर साल कई पर्यटक अपनी छुट्टिया बिताने यहाँ प्रकृति की गोद में आते है. यह आगुन्तको की पर्यटक स्थल के रूप में पहली पसंदीदा जगह है. इस छोटे से राज्य में घुमने के कई स्थान है जैसे मनाली, कुल्लू, शिमला, सोलन, शिलांग, धर्मशाला, डलहोजी, पालमपुर, चंबा और खजियार. ये सभी जगह अपने आप में प्रकृति की देन से भरपूर है. इन जगहों पर आप ट्रैकिंग और स्कीइंग का भरपूर आनंद ले सकते है. इस पर्वतीय राज्य के ढलते हुए झरने, बहती हुई नदिया, नदी की घाटिया, सुरम्य झीले, अन्नत बर्फ की चोटिया और बर्फ से ढके पहाड़ आपका मन मोह लेने में समर्थ है. हिमाचल प्रदेश के हर एक श्रेत्र की अपनी विशेषता है जैसे मनाली से रोहतांग स्नो प्वाइंट की यात्रा लुभावनी है। मनाली और सोलंग घाटी में राफ्टिंग, पैराग्लाइडिंग, स्कीइंग और ज़ोरबिंग जैसी कई गतिविधियाँ लोकप्रिय हैं। शिमला और कसौली में टॉय ट्रेन की सवारी और अन्य गतिविधिया लोकप्रिय है. इस प्रदेश में बसे छोटे-छोटे गाँव भी अपनी भव्यता विराजमान है. यहाँ सुंदर पहाड़ी शहर, रिसॉर्ट और तिब्बती और बौद्ध मठ का भी आनंद ले सकते है. हिमाचल प्रदेश की यात्रा आपके जीवन के सबसे सुखद क्षणों की सूची में शामिल होगी.

राजभाषा: हिंदी

राज्य: हिमाचल प्रदेश

घूमने के स्थान: हिडिम्बा देवी मंदिर, कुंजल दर्रा, रोहतांग दर्रा, सोलंग घाटी, स्पीति घाटी, भृगु झील, डल झील, करेरी झील, धर्मकोट, भागसू नाग, प्रहार झील,  कांगड़ा किला, रूपिन दर्रा।

8कश्मीर:-

कश्मीर की जमीन पर पैर रखते ही स्वर्ग की अनुभूति होती है. इसलिए कश्मीर को “धरती का स्वर्ग” कहा जाता है. कश्मीर एक ऐसी जगह है जिसे किसी परिचय की आवश्यकता नही है यह पूरी दुनियाभर में अपनी राजसी सुंदरता और भव्यता के लिए प्रसिद्ध है. जम्मू और कश्मीर भारत का सबसे उत्तरी राज्य है. जम्मू में वैष्णो देवी का मंदिर तीर्थ यात्रा के लिए बहुत लोकप्रिय है. यह अपने आध्यात्मिक रूप से ही मूल्यवान नही है, बल्कि अपने प्राकृतिक वैभव के लिए भी ख्याति प्राप्त है। अमरनाथ भी धार्मिक तीर्थ स्थल के रूप में लोकप्रिय है. हिमाचल बर्फ से ढके पहाड़ो की एक अद्भुत तस्वीर पेश करता है. कश्मीर में कई महत्वपूर्ण घूमने लायक स्थल है जैसे जम्मू, पहलगाम, श्रीनगर और गुलमर्ग. कश्मीर की घाटी में गुलमर्ग भारत में सबसे लोकप्रिय स्की रिसॉर्ट स्थलों में से एक है और इसमें दुनिया का सबसे ऊंचा ग्रीन गोल्फ कोर्स है। श्रीनगर में डल झील के नीले पानी में एक नाव की सवारी और पहलगाम में चित्र-परिपूर्ण को देखना एक अद्भुत अनुभवों में से एक है.

आधिकारिक भाषा: उर्दू

राज्य: जम्मू और कश्मीर

घूमने के स्थान: कश्मीर घाटी, श्रीनगर, गुलमर्ग, कुपवाड़ा, कारगिल, पुलवामा, सोनमर्ग, हेमिस।

7उत्तराखंड:-

बेजोड़ प्रकृति का भंडार है “उत्तराखंड”. उत्तराखंड को देवभूमि के रूप में भी जाना जाता है. यहाँ बड़ी संख्या में हिन्दू मंदिर और आश्रम स्थापित है. उत्तराखंड में चार बहुत ही लोकप्रिय बद्रीनाथ, केदारनाथ, यमुनोत्री और गंगोत्री मंदिर स्थापित है, यहाँ हिन्दू आगुन्ताको की हर साल बहुत भीड़ लगी रहती है. यह स्थल आध्यात्मिक  होने के साथ-साथ हिल स्टेशन के लिए भी लोकप्रिय है. यहाँ के बेहतरीन और शानदार हिल स्टेशनस कौसानी, मुक्तेश्वर, मसूरी, नैनीताल, अल्मोड़ा, रानीखेत, पिथौरागढ़ और औली हैं। ये सभी स्थान प्रकृति की सुन्दरता को सम्रध किये हुए उत्तराखंड में विराजमान है. यूनेस्को के विश्व धरोहर स्थल में शामिल दो राष्ट्रीय उद्यान नंदा देवी राष्ट्रीय अभ्यारण्य और फूलों की घाटी राष्ट्रीय उद्यान भी उत्तराखंड में ही स्थित है. नंदा देवी राष्ट्रीय अभ्यारण्य नंदादेवी की बर्फ से ढकी चोटी है और फूलों की घाटी राष्ट्रीय उद्यान विभिन्न अल्पाइन फूलों की घास के मैदानों के लिए प्रसिद्ध है। उत्तराखंड का एक छोटा सा गाँव औली एक महत्वपूर्ण स्कीइंग गंतव्य है। नैनीताल एक छोटा हिल स्टेशन है जो नैनी झील के लिए लोकप्रिय है। उत्तराखंड के अपने हर क्षेत्र  अलग-अलग विशेषताये है. उत्तराखंड एक सुंदर शहर है इसकी यात्रा निश्चित ही आपको सुकून देगी.

राजभाषा: हिंदी और संस्कृत

राज्य: उत्तराखंड

घूमने के स्थान: हरिद्वार, लंढौर, पिथौरागढ़, देहरादून, मसूरी, ऋषिकेश, नैनीताल, रानीखेत, चमोली, बिनसर, जिम कॉर्बेट, अल्मोड़ा, औली।

6पूर्वोत्तर भारत:-

प्रकृति ने हमारी पृथ्वी को अमूल्य चीज़े दी है हरे-भरे जंगल,, सुखद वायु और वातावरण, ऊचे-ऊचे रेतीले और बर्फीले पहाड़, जल और अन्य कई महत्वपूर्ण चीज़े प्रकृति की ही दें है. पूर्वोत्तर भारत कई खूबसूरत हिल स्टेशनों और अद्भुत प्राकृतिक सुंदरता का घर हैं। पूर्वोत्तर भारत में पश्चिम बंगाल के उत्तरी हिस्सों के साथ सिक्किम, मेघालय और असम के राज्य शामिल हैं।  दार्जिलिंग पश्चिम बंगाल में आगुन्तको द्वारा सबसे अधिक बार देखा जाने वाला पर्यटन स्थल है. कंचनजंगा बुलंद हिमालय की चोटियों पर लुभावने सूर्योदय के दृश्यों के लिए जानी जाती है. सिक्किम राज्य में गंगटोक, पेलिंग, लाचुंग और युमथांग जैसे अधिकांश दर्शनीय स्थान हैं, जो बहुत ही मनोबल है। यह सभी स्थान बर्फ से ढकी हुई पहाडियों की मनोरम तस्वीर आपके समक्ष प्रस्तुत करते है जो की मन को प्रफुलित करने वाली होती है. मेघालय एक पठारी पहाड़ी है जिसमे गहरे झरने और हरे-भरे घास के मैदान का मनोरम द्रश्य देखने को मिलता है. शिलांग भी अपने हरे-भरे जंगलो, गुफ़ाओ और झरनों के लिए प्रसिद्ध है. असम में भी कई प्राकृतिक सोंदर्य से भरी चीज़े और वन्यजीव अभयारण्य हैं। पूर्वोत्तर भारत की यात्रा आपको बहुत कभी न भूलने वाला अनुभव देगी.

आधिकारिक भाषा: कोकबोरोक, असमिया, बंगाली, बोडो, गारो, खासी, मिज़ो

राज्य: सिक्किम, मेघालय, अरुणाचल प्रदेश, मणिपुर, मिजोरम और असम

घूमने के स्थान: जीरो वैली (अरुणाचल प्रदेश), काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान (असम), तवांग मठ (अरुणाचल प्रदेश),  त्सोमगो (सिक्किम), नाथुला दर्रा (सिक्किम)।

5केरल:-

केरल अपनी खूबसूरती के लिए दुनिया भर में विखाय्त है. इसलिए केरल को “भगवन का अपना देश” के रूप में भी जाना जाता है. अपनी भव्य सुन्दरता और प्राकृतिक सौन्दर्य की वजह से केरल दुनिया के सबसे तेजी से बढ़ते पर्यटन स्थलों की सूची में शामिल हो गया. सुंदर समुद्र तट, चारो और की हरियाली, विदेशी हिल स्टेशन और अद्भुत बैकवॉटर्स केरल के मुख्य आकर्षण के केंद्र है. केरल की आकर्षक सुन्दरता और भव्यता आपको मंत्रमुग्ध करने वाली है. केरल के हर एक शहर की अपनी भिन्न-भिन्न विशेषताऐ है जैसे केरल का एलेप्पी शहर बैकवाटर्स के लिए जाना जाता है। मुन्नार चाय के बागानों, पश्चिमी घाट के मसालों और ऊची-ऊची पहाडियों के लिए लोकप्रिय है. यहाँ के कई राज्य स्पा केंद्र और योग केंद्र की सुविधा प्रदान करते है. केरल राज्य में कोवलम और वर्कला समुन्द्र तट भी देखने योग्य है. अपनी छुट्टिया बिताने के लिए केरल का दौरा आपके लिए उतम रहेगा. यहाँ से लौटते वक़्त आप अपने साथ एक अद्भुत अनुभव लेकर आओगे.

आधिकारिक भाषा: मलयालम

राजधानी: तिरुवनंतपुरम

घूमने के स्थान: कन्नूर, एलेप्पी, कुमारकोम, वायनाड, थेक्कडी, मुन्नार, कोवलम, वागमोन, कोझीकोड, वर्कला, कासरगोड, बेकल।

4लक्षद्वीप:-

लक्षद्वीप भारत के दक्षिण-पश्चिम में अरब सागर में स्थित एक भारतीय द्वीप-समूह है। लक्षद्वीप का अर्थ है “”एक हजार द्वीप”. लक्षद्वीप द्वीप-समूह में कुल 36 द्वीप है केवल 10 द्वीपों पर ही मनुष्यों का आवास है। और सिर्फ 6 द्वीपों पर पयर्टकों जाने की अनुमति है. इन द्वीपों की सुन्दरता और आकर्षक नज़रो से आपकी नज़रे नही हटेगी. लक्षद्वीप के मुख्य द्वीप मिनिकॉय, कवर्त्ती, अगत्ती और अमिनी हैं, जो हर साल कई पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करते है। यहाँ आप कई बेहतरीन वाटरस्पोर्ट गतिविधियों का आनंद ले सकते है जैसे स्पोर्ट-फिशिंग, स्नोर्कलिंग, कयाकिंग, वॉटरकिकिंग, स्कूबा डाइविंग और विंडसर्फिंग. यहाँ प्राचीन द्वीपसमूह लैगून की संस्कृति को करीब से देख सकते है. लक्षद्वीप प्रकृति प्रेमियों की पसंदीदा जगहों में से एक है. साथ ही, यह स्थान भारत में सबसे बेहतरीन और आकर्षक स्थानों की सूची में शामिल है.

आधिकारिक भाषा: मलयालम

राजधानी: कवर्त्ती

घूमने के स्थान: कदमत द्वीप, अगत्ती द्वीप, पिट्टी पक्षी अभयारण्य, मिनिकॉय द्वीप, कल्पेनी द्वीप, बांगरम द्वीप।

3गोवा:-

गोवा भारत देश का छोटा-सा प्रदेश है जो अपने रेत के समुंद्री तटो के लिए जाना जाता है, और हर साल अपने आगुन्तको को भव्य सुन्दरता से आकर्षित करता है. अधिकतर पर्यटक गोवा की नाइटलाइफ़ और डिस्को का आनंद उठाने के लिए आते है. गोवा नाईट पब्स के लिए काफी लोकप्रिय है. यहाँ कई डिस्को और पब संचालित होते है. गोवा के बीचस भी दुनियाभर में काफी प्रसिद्ध है. यहाँ देशी पर्यटकों के साथ-साथ विदेशी पर्यटकों का आना-जाना भी लगातार लगा रहता है. यहाँ कई लोकप्रिय बीचस है जहा लोगो की भीड़ उमड़ी रहती है जैसे बागा बीच, पणजी बीच, मीरामार बीच,बागाटोर बीच, अंजुना बीच, सिंकेरियन बीच और पालोलेम बीच. in बीचस पर आप शांति भरे पलों को समेट सकते है. यहाँ कई प्रकार की गतिविधियों जैसे  वॉटरकीकिंग, विंडसर्फिंग और स्नोर्कलिंग का मज़ा भी ले सकते है. दुधसागर झरना भी गोवा में देखने योग्य है. साथ ही, आप यहा समुंद्री और विदेशी व्यंजनों का लुफ्त उठा सकते है.

आधिकारिक भाषा: कोंकणी

राजधानी: पणजी

घूमने के स्थान: अगुआड़ा किला, वागाटोर बीच, पंजिम, कैलंग्यूट बीच, बागा बीच, बेसिलिका ऑफ बॉम जीसस, कोलावा बीच, सी कैथेड्रल।

2अंडमान:-

अंडमान और भारत के केंद्र शासित प्रदेशों में शामिल है. यह बंगाल की खाड़ी और अंडमान समुद्र के विलय पर दक्षिण में हिन्द महासागर में स्थित है। बंगाल की खाड़ी के एक द्वीपसमूह में विभिन्न आकार के लगभग 325 द्वीप हैं। अंडमान अपने असाधारण द्वीपों, मछलियों, कोरल, हरे-भरे जंगलो और खुशनुमा वातावरण की वजह से पर्यटकों के लिए आकर्षण का केंद्र है. यहाँ कुछ प्राचीन समुन्द्र तट है, जो देखने लायक है. यहाँ आप कई बेहतरीन गतिविधियों जैसे ग्लास बॉटम बोट राइड, सी-वॉकिंग, स्कूबा डाइविंग, बैक राइडिंग, वॉटर स्पोर्ट, स्पीडबोट सवारी और जेट स्कीइंग का आनंद ले सकते है. साथ ही, यहाँ आप खुबसूरत रिसॉर्ट्स, बेहतरीन और स्वादिष्ट व्यंजन का भी लुफ्त उठाये. अंडमान की डिगलीपुर और बाराटांग की चूना पत्थर की गुफाएँ देखने में बहुत ही आकर्षित लगती है. आप जब भी अंडमान की यात्रा करे जब समुंद्री व्यंजनों  का लुफ्त जरुर उठाये.

आधिकारिक भाषा: बंगाली, अंग्रेजी

राजधानी: पोर्ट ब्लेयर

घूमने की जगहें: रॉस आइलैंड, राधानगर बीच, लक्ष्मणपुर बीच, जॉली बुय आइलैंड, मकरुज।

1राजस्थान:-

भारत देश का सबसे बड़ा राज्य राजस्थान अपनी भव्य विरासत और सम्रध परम्परा और राजपूती शान के लिए विश्वभर में प्रसिद्ध है. राजस्थान की प्राचीन इमारते, किले और महल इतिहास को दोहराते है और उस वक़्त की संस्कृति की बया करते है. राजस्थान को थार का रेगिस्तान के रूप  में भी जाना जाता है. यहाँ के मुख्य पर्यटक स्थल जयपुर, बीकानेर, जोधपुर, दिलवाडा के जैन मंदिर, माउंट आबू, कालीबंगा, सिन्धु घाटी सभ्यता, रणथंभौर राष्ट्रीय टाइगर रिजर्व है, जो देशी और विदेशी पयर्टको को अपनी सुन्दरता और भव्यता के माध्यम से अपनी ओर आकर्षित करते है. राजस्थान के प्राचीन इमारते, ऐतिहासिक किले, महल और स्मारक मुख्य आकर्षण के केंद्र है. यहाँ की वास्तुकला और सांस्कृतिक विरासत का देखना एक अद्भुत अनुभवों में से एक है.

राजभाषा: मारवाड़ी, हिंदी

राजधानी: जयपुर

घूमने के स्थान: सिटी पैलेस (जयपुर), जैसलमेर किला (जैसलमेर), मेहरानगढ़ किला (जोधपुर), पुष्कर झील (पुष्कर), पिछोला झील (उदयपुर), तारानगर किला (बूंदी), जूनागढ़ किला (बीकानेर) दरगाह शरीफ (अजमेर)।

यात्रा, जीवनशैली, सामाजिक, मनोरंजन, व्यंजन और अन्य विषयो पर आधारित महत्वपूर्ण और रोमांचक जानकारी के लिए Top10Things.co.in पर एक नज़र डाले।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ENGLISH