दिल्ली के पास शीर्ष 10 सप्ताहांत गेटवे (Top 10 Weekend Getaways near Delhi)

दिल्ली के पास शीर्ष 10 सप्ताहांत गेटवे (Top 10 Weekend Getaways near Delhi)

दिल्ली के पास शीर्ष 10 सप्ताहांत गेटवे

  • शिमला
  • आगरा- ताज का शहर
  • मनाली- हनीमूनर्स स्वर्ग
  • ऋषिकेश- ‘दुनिया की योग राजधानी
  • कसौली- एक सुंदर औपनिवेशिक हिल स्टेशन
  • मथुरा- भगवान कृष्ण का जन्मस्थान और बचपन
  • जयपुर- ‘पिंक सिटी
  • जैसलमेर- ‘गोल्डन सिटी
  • ग्वालियर- एक ऐतिहासिक शहर जो अपने पहाड़ी किले के लिए प्रसिद्ध है
  • नैनीताल- नैनी झील का घर

10शिमला:-

“हिल स्टेशन की रानी” शिमला में अपनी छुट्टियों का एक सप्ताह बिताना दिल्ली के पास से बेहद ही उतम तरीका है. अगर आप अपना सप्ताह हिमाचल प्रदेश के सबसे अच्छे हिल स्टेशन में बिताओगे तो आपको निराशा हाथ नही लगेगी. शिमला भारत देश की सबसे खुबसूरत जगहों में से एक है, यहाँ छुट्टिया बिताना अपने आप में एक अद्भुत अनुभव है. शिमला समुद्र तल से 220 मीटर की ऊंचाई पर स्तिथ है और अपने आप में कई आकर्षक चीजों को समेटे हुए है. यहाँ आप कई प्रकार की गतिविधियों, ऊचे-ऊचे बर्फ के पहाड़ो, हरे-भरे जंगलो, देवदार के पेड़ो, उचे झरनों, टॉय ट्रेन की सवारी और अन्य कई चीजों का आनंद ले सकते है. शिमला की मॉल रोड और लक्कड़ बाज़ार की सैर भी जरुर करे और यहाँ से आप गर्म कपडे और लकड़ी के हस्तशिल्प को स्मृति चिन्ह अपने प्रियजनों के लिए ले सकते है.

घूमने की जगहें: जाखू मंदिर, स्कैंडल पॉइंट, क्राइस्ट चर्च, एनांडेल, चाडविक गिर

असामान्य चीजें: कैंपिंग, वॉटर राफ्टिंग, ट्रेकिंग, पाइन के जंगल से होकर गुजरती हैं

दिल्ली से दूरी: 349 किमी

यात्रा का समय:

बस: 9 घंटे

ट्रेन: 7 घंटे 38 मिनट

उड़ान: 1 घंटा 10 मिनट

घूमने का सबसे अच्छा समय: मानसून का मौसम

9आगरा- ताज का शहर:-

एक बेहतरीन सप्ताह बिताने के लिए दिल्ली के से पास से आगरा शहर उतम जगह है. आगरा शहर दिल्ली के निकटतम गेटवे में से एक है, यह उत्तर प्रदेश में यमुना नदी के तट पर स्थित है. आगरा को मुगल शहर और “सिटी ऑफ ताज” के रूप में भी जाना जाता है, यहा मुग़ल वास्तुकला की अनूठी तस्वीरे देखने को मिलती है. आगरा की यात्रा के लिए विश्वभर से कई आगुन्तक हर साल आते है. यहाँ के पेठा और दाल मोठ प्रसिद्ध व्यंजन है. शहर की यात्रा के दौरान आप मुगल इतिहास को अनुभव ले सकेगे और उनके द्वारा निर्मित ताजमहल जैसी इमारतों को निहार सकेगे.

आगरा में घूमने के स्थान: आगरा किला, ताजमहल, फतेहपुर सीकरी,

असामान्य बातें करने के लिए: ताज महोत्सव, किनारी बाजार में दुकान, ताज शो

दिल्ली से दूरी: 217किमी

यात्रा का समय:

बस: 3 घंटे 43 मिनट

ट्रेन: 1 घंटा 25 मिनट

उड़ान: 3 घंटे 5 मिनट

यात्रा करने का सर्वोत्तम समय: अक्टूबर से जुलाई

8मनाली- हनीमूनर्स स्वर्ग:-

मनाली की खूबसूरती से हर कोई वाकिफ़ है यह भारत के सबसे बेहतरीन और प्रसिद्ध हिल स्टेशनों की सूची में शुमार है. यह जगह नवविवाहितों, कपल्स, दोस्तों के समूहों, साहसिक उत्साही और प्राकृतिक प्रेमियों अर्ताथ सभी के लिए उतम है. मनाली में आप रोमांचकारी साहसिक गतिविधियों और अन्य गतिविधियों ज़ोरिंग, रिवर राफ्टिंग, ट्रेकिंग और रॉक क्लाइम्बिंग,पैराग्लाइडिंग, जिप लाइनिंग, स्नो स्कूटर की सवारी, स्कीइंग और माउंटेन बाइकिंग का भरपूर आनंद ले सकते है जिससे आपकी छुट्टियों का मज़ा दोगुना बढ़ जायेगा. यात्रा के दौरान मॉल रोड की सैर एक अद्भुत अनुभव होगा, वहां से आप कुछ गर्म कपडे और हस्तशिल्प की चीज़े खरीद सकते है. मनाली में आपके समक्ष पहाड़ी शहरों, हरे-भरे जंगलो, बहते हुए झरनों, बर्फ के पहाड़ो और अन्य आकर्षक चीजों के तस्वीर प्रस्तुत होगी, जिससे आपको निश्चित ही प्रेम हो जायेगा. सोलंग घाटी की यात्रा करना न भूले.

घूमने के स्थान: हिडिम्बा देवी मंदिर, मणिकरण गुरुद्वारा, वशिष्ठ गाँव, गायत्री मंदिर, ब्यास कुंड ट्रेक

असामान्य बातें करने के लिए: माउंटेन बाइकिंग, रिवरसाइड कैम्पिंग, भृगु झील, तिब्बती मठ, हम्पटी पास ट्रेक

दिल्ली से दूरी: 564किमी

यात्रा का समय:

बस: 12 घंटे 30 मिनट

ट्रेन: 13 घंटे 32 मिनट

उड़ान: 10 घंटे 57 मिनट

यात्रा करने का सही समय: साल भर (मानसून के मौसम को नजरअंदाज करें)

7ऋषिकेश- ‘दुनिया की योग राजधानी’:-

उत्तराखंड राज्य में स्थित ऋषिकेश एक छोटा हिल स्टेशन है जो दिल्ली के गेटवे से पास में है. ऋषिकेश में देवी-देवता निवास किया करते थे इसलिए इसे देवभूमि भी कहा जाता है और इस स्थल को ‘योग राजधानी के रूप में जाना जाता है।’ यह एक प्रसिद्ध और पवित्र हिदू तीर्थ स्थल है. साथ ही, ऋषिकेश घुमने और पर्यटकों के लिए उतम जगह है. यहाँ बहुते सारे प्राचीन मंदिर और आश्रम है जिन्हें देखकर आप इतिहास को महसूस कर सकते है उनके जीवनशेली का समझ सकते है. यहाँ के आश्रमों में आप रह भी सकते हैं इन आश्रमों  आपको सभी अनावश्यक सुख-सुविधाओं से दूर एक सरल और पूर्ण जीवन जीने का अनुभव प्राप्त होगा। ऋषिकेश साहसिक कार्य गतिविधियों के लिए भी बहुत लोकप्रिय है यहाँ आप क्लिफ-हैंगिंग, कयाकिंग, रैपेलिंग, ट्रेकिंग, कैम्पिंग और रिवर राफ्टिंग का आनंद ले सकते है. यहाँ की शाम की गंगा आरती का द्रश्य बहुत ही अद्भुत होता है.

घूमने के स्थान: स्वर्ग आश्रम, राम झूला, लक्ष्मण झूला, परमार्थ निकेतन, त्रिवेणी घाट, बीटल्स आश्रम, नीलकंठ, महादेव मंदिर

असामान्य बातें करने के लिए: एयर सफारी, झरना ट्रैकिंग चुनौती, विशालकाय स्विंग

दिल्ली से दूरी: 267.7 किमी

यात्रा का समय:

बस: 5 घंटे 27 मिनट

ट्रेन: 5 घंटे 44 मिनट

उड़ान: 2 घंटे 45 मिनट

यात्रा करने का सबसे अच्छा समय: सितंबर के अंत में- मई का पहला सप्ताह

6कसौली- एक सुंदर औपनिवेशिक हिल स्टेशन:-

प्रकृति का बेजोड़ द्रश्य है कसौली. भाग-दौड़ की जिन्दगी से राहत पाने और कही एकांत शांत वातावरण में सुख के पलों को खोजना एक बहुत ही विसम्यकारी अनुभव है. अगर आप भी कुछ दिन शांति के माहौल में गुजारना चाहते है तो दिल्ली के गेटवे से कसौली हिल स्टेशन पास में है और बेहतरीन जगहों में से एक है. 1842 में,  कसौली की स्थापना स्थापना अंग्रेजों ने एक औपनिवेशिक हिल स्टेशन के रूप में की थी। यह शिमला से सिर्फ 77 किमी दूर स्थित है। यहाँ का खुशनुमा मौसम, चारो-तरफ की हरियाली, ऊचे पहाड़, झरने और प्राकृतिक सौन्दर्य हर साल कई पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करता है. कसौली प्राकृतिक वनस्पतियों और जीवों में बहुत समृद्ध है। ऊची पहाड़ी से सूर्यास्त का नज़ारा देखना न चूके  और साथ ही कैम्पिंग, ट्रेकिंग और नेचर वॉक का भी आनंद ले. कसौली में शानदार नज़रो को देखने के लिए मंकी पॉइंट आपके आपके  लिए बेहतरीन रहेगा. शाम के समय में आप यहाँ मॉल की सैर भी कर सकते है.

घूमने के स्थान: क्राइस्ट चर्च, कसौली ब्रेवरी, लोअर माल रोड, गिल्बर्ट ट्रेल

असामान्य बातें करने के लिए: टॉय ट्रेन की सवारी, कसौली तिब्बती बाजार में खरीदारी, चर्चों की यात्राएं।

दिल्ली से दूरी: 287.9 ​​किमी

यात्रा का समय:

बस: 6 घंटे 45 मिनट

ट्रेन: 5 घंटे 48 मिनट

उड़ान: 3 घंटे 08 मिनट

यात्रा करने का सबसे अच्छा समय: पूरे वर्ष।

5मथुरा- भगवान कृष्ण का जन्मस्थान और बचपन:-

दिल्ली के गेटवे के पास मथुरा शहर छुट्टिया बिताने के लिए बेहतरीन जगह है. मथुरा को भगवान श्रीकृष्ण की जन्मभूमि के रूप में भी जाना जाता है. इसी खुबसूरत शहर में श्रीकृष्ण अपनी लीलाए रचते थे. यहाँ हर साल बड़ी संख्या में भगवान कृष्ण के अनुयायी उनके दर्शन करने आते है. मथुरा और वृंदावन शहर दोनों पास में ही स्थित है इसलिए इन्हें जुड़वां शहर भी कहा जाता है. ये दोनों शहर भारत के सबसे लोकप्रिय धार्मिक स्थलों में से एक हैं। 3000 साल पुरानी इस नगरी मथुरा और वृंदावन में सभ्यता, संस्कृति और राधा और भगवान कृष्ण के बारे में वर्णन मिलता है. होली और जन्माष्टमी के त्योहारों के समय यहाँ भारी संख्या में लोग दूर-दूर से आते है. यहाँ कई छोटे-बड़े मंदिर और आश्रम है जो अपनी भव्यता को लिए सम्रध है. इस धार्मिक नगरी में छुट्टी के कुछ दिन बिताना बेहद ही खुबसूरत अनुभव है. यहाँ की प्रसिद्ध मिठाई पेडा का आनंद लेना न भूले.

घूमने के स्थान: श्री कृष्ण जन्मभूमि मंदिर, कुसुम सरोवर, राधा कुंड, कंस किला, मथुरा संग्रहालय, बरसाना, कृष्ण बलराम मंदिर, गीता मंदिर, प्रेम मंदिर

असामान्य बातें करने के लिए: मथुरा, वृंदावन और बरसाना में होली में भाग लें, विभिन्न घाटों का अन्वेषण करें

दिल्ली से दूरी: 183 किमी

यात्रा का समय:

बस: 3 घंटे 7 मिनट

ट्रेन: 1 घंटा 40 मिनट

उड़ान: कोई उड़ान नहीं

यात्रा करने का सर्वोत्तम समय: अक्टूबर से मार्च

4जयपुर- ‘पिंक सिटी’:-

अपनी गुलाबी इमारतों की भव्यता वाला जयपुर शहर राजस्थान का सबसे प्रसिद्ध शहर है इसलिए इसे गुलाबी नगरी या पिंक सिटी के नाम से भी जाना जाता है. दिल्ली के गेटवे के पास जयपुर शहर छुट्टिया बिताने के लिए सर्वश्रेष्ठ जगह है. यहाँ के अद्भुत दर्शनीय स्थलों की तस्वीर रोमांचित करने वाली है. जयपुर शहर कई प्रसिद्ध किले और महलों की खूबसूरती, भव्यता, समर्धि और विरासत को समेटे हुआ है. यहाँ के किलो और महलों की यात्रा से इतिहास का वर्णन मिलता है. विरासतों के अलावा, जयपुर के स्वादिष्ट व्यंजन जैसे बेसन के गट्टे, मावा कचोरी, घेवर, दाल-बाटी चूरमा और मिर्च बड़ा आदि भी बहुत प्रसिद्ध है. गुलाबी नगरी का बाज़ार भी खरीददारी करने योग्य है. जयपुर बाज़ार से आप राजस्थानी गहने, जूटी, संगमरमर की नक्काशी, मिट्टी के बर्तन, लाख की चूड़िया, लहरिया के दुप्पटे और सारी और बंधेज की चुनरी ले सकते है. जयपुर की यात्रा आपको अद्भुत अनुभव प्रदान करेगी.

घूमने के स्थान: अम्बर किला, जयगढ़ किला, जंतर मंतर, नाहरगढ़ किला, हवा महल, जल महल, बिड़ला मंदिर, अल्बर्ट हॉल संग्रहालय।

असामान्य बातें करना: राजस्थानी व्यंजन बनाना सीखें, सिटी पैलेस के भ्रमण का आनंद लें, हाथी फार्म पर जाएँ, राजमंदिर में एक बॉलीवुड फिल्म देखें।

दिल्ली से दूरी: 281 किमी

यात्रा का समय:

बस: 5 घंटे

ट्रेन: 3 घंटे 46 मिनट

उड़ान: 55 मिनट

घूमने का सबसे अच्छा समय: नवंबर के शुरू से फरवरी तक।

3जैसलमेर- ‘गोल्डन सिटी’:-

राजस्थान में स्थित जैसलमेर को “थार का रेगिस्तान” और “स्वर्ण नगरी” के रूप में भी जाना जाता है. शानदार किले और महल, ऊंट सफारी, रेगिस्तान की जीवनशैली, प्राकृतिक सुन्दरता और साहसिक गतिविधिया यहाँ के मुख्य आकर्षण के केंद्र है. जैसलमेर ली कुछ हवेलियाँ है जो बहुत लोकप्रिय है जिनमे पटवा की हवेली, दीवान नथमल की हवेली और सलीम सिंह की हवेली शामिल है. जैसलमेर राजस्थान में पर्यटकों का सबसे पसंदीदा और अधिक मांग किय जाने वाला स्थल है हालाँकि, यहाँ अप्रैल, जून के महीने में गर्मी बहुत होती है लेकिन राते सुकून देने वाली होती है. यहाँ रात को सैम सैंड ड्यून्स के शिविरों में रुकना एक शानदार अनुभव होगा. जैसलमेर वाकई में बहुत ही रोमांचित जगह है.

घूमने के स्थान: सोनार किला, व्यास छत्री, बड़ा बाग, मंदिर महल, तनोट माता मंदिर

असामान्य चीजें करने के लिए: गादीसर झील में नौका विहार का आनंद लें, छत पर कैफे में आनंद लें।

दिल्ली से दूरी: 829.9किमी

यात्रा का समय:

बस: 17 घंटे 10 मिनट

ट्रेन: 12 घंटे 30 मिनट

उड़ान: 10 घंटे 35 मिनट

यात्रा करने का सर्वोत्तम समय: नवंबर से मार्च।

2ग्वालियर- एक ऐतिहासिक शहर जो अपने पहाड़ी किले के लिए प्रसिद्ध है:-

मध्य प्रदेश का एक लोकप्रिय ऐतिहासिक शहर ग्वालियर सप्ताह की छुट्टिया बिताने के लिए बेहतरीन जगह है.  ग्वालियर केवल अपने वर्तमान कलात्मक कौशल के लिए ही नही जाना जाता बल्कि इसके पूर्व सिंधिया शासकों की वीरता के लिए भी जाना जाता है। यह शहर कई ऐतिहासिक स्थानो और वास्तु चमत्कारों से युक्त है, जो वास्तव में ही देखने लायक है. यहाँ के सुरुचिपूर्ण मंदिर शहर के आकर्षण को बढ़ते है. यहाँ प्रसिद्ध माधव राष्ट्रीय उद्यान भी है जहा आप वन्यजीव सफारी का आनंद ले सकते है. खासकर वह लोग यहाँ की यात्रा करे जो वन्यजीव और प्रकृति के प्रति उत्साही हैं. ग्वालियर में कई रोमांचित गतिविधिया टाइगर डैम पर पैरासेलिंग और रॉक क्लाइम्बिंग है. इस शहर का बाज़ार का नज़ारा भी अद्भुत है आप यहाँ से गहने, लाह के सामान,  रंगीन गुड़िया, पर लटकने वाले सामान, हाथ से बने कालीन और मूर्तियाँ आदि देख सकते है. चंदेरी साड़ी, और अन्य पारंपरिक कपड़े, चांदी के बर्तन, पीतल के बर्तन और आदिवासी लकड़ी के गहने अपने परिजनों के लिए खरीद भी सकते है.

घूमने के स्थान: ग्वालियर का किला, सूर्य मंदिर, जय विलास पैलेस, गुजरी महल, तेली का मंदिर।

असामान्य बातें करने के लिए: स्पलैश द फन सिटी में हीट को हराएं, गोपाचल पर्वत पर रॉक-कट की मूर्तियों का अन्वेषण करें, गोह के लिए तिघरा डैम में नौका विहार करें।

दिल्ली से दूरी: 363 किमी

यात्रा का समय:

बस: 8 घंटे 40 मिनट

ट्रेन: 2 घंटे 4 मिनट

उड़ान: कोई लड़ाई नहीं

यात्रा करने का सर्वोत्तम समय: जुलाई से मार्च।

1नैनीताल- नैनी झील का घर:-

नैनीताल उतराखंड के सबसे बेहतरीन और लोकप्रिय हिल स्टेशनों में से के है जो सप्ताह की छुट्टिया बिताने के लिए सर्वोत्तम जगह है. नैनीताल का नाम प्रसिद्ध झील नैनी झील के नाम पर रखा गया है. नैनीताल समुद्र तल से 1938 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। नैनीताल की सुन्दरता से मोहित होकर कई पर्यटक यहाँ हर साल छुट्टिया बिताने आते है. यह स्थान स्वर्गीय सुंदरता की एक अद्भुत तस्वीर प्रदशित करता है. नैनीताल के चारो-ओर की हरियाली, हरे-भरे पहाड़ और सुरम्य झीले बेहद ही आकर्षक है और इनकी खूबसूरती निहारते हुए आपकी नज़रे नही थकेगी. हल-चल भरी जिन्दगी से बाहर निकल कर आप कुछ दिन सुकून से बिता सकते है.. यहाँ आप ट्रेकिंग या रॉक क्लाइम्बिंग जैसी गतिविधियों का भी आनंद ले सकते हैं.

घूमने के स्थान: नैना पीक, नैना देवी मंदिर, द फ्लैट्स खेल का मैदान, गोविंद बल्लभ पंत चिड़ियाघर, जॉन चर्च, राजभवन गवर्नर हाउस, टिफिन शीर्ष दृश्य।

असामान्य बातें करने के लिए: इको गुफा गार्डन, चांदनी चौक में भोजन, रॉक क्लाइम्बिंग का आनंद लें।

दिल्ली से दूरी: 334.3 किमी

यात्रा का समय:

बस: 6 घंटे

ट्रेन: 6 घंटे 55 मिनट

उड़ान: 3 घंटे 44 मिनट

यात्रा करने का सबसे अच्छा समय: पूरे वर्ष।

यात्रा, जीवनशैली, सामाजिक, मनोरंजन, व्यंजन और अन्य विषयो पर आधारित महत्वपूर्ण और रोमांचक जानकारी के लिए Top10Things.co.in पर एक नज़र डाले।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ENGLISH